Mamtamai Shri Radhe Maa – Shobha Yatra 2011 – Mukerian

Mamtamai Shri Radhe Maa – Shobha Yatra 2011

चैत्र की नवरात्री के राम नवमी के  पावन, शुभ और मंगल अवसर पर  ममतामयी श्री राधे माँ जी के पुण्य सानिध्य में डेरा परमहंस बाग़,मुकेरियां (पंजाब) में ,शाम ५ बजे , भव्य राम दरबार,विभिन्न देवी देवताओं की मनुहारी झान्कियाओं के संग माँ की पावन ज्योत के दर्शन,सारा का सारा वातावरण उत्साह,भक्ति,लगन और श्रद्धा से भरपूर, ऐसा प्रतीत हो रहा था मानो पूर्ण देवलोक स्वयं धरती पर अवतरित हो गया हो , इस भव्य शोभा यात्रा का मुख्या आकर्षण रहा ममतामयी श्री राधे माँ जी के निर्मित विशेष रथ जिसे विशेष तौर पर इस राम नवमी की भव्य शोभायात्रा हेतु बनवाया गया था, इस स्वर्ण रथ में चारों ओर मीनाकारी किये हुए स्तम्भ और ऊपरी नक्काशी के दोनों ओर दो स्वर्ण शेर विराजमान थे और ऐसा आभास दे रहे थे कि हम खुश नसीब हैं जो राधे माँ जी के इस अप्रतिम रथ कि शोभा बने हैं, वातानुकूलित इस अनुपम रथ में देवी माँ जी का आसन और उसके निकट ही महंत बाबा बलदेवदास जी का आसन सजाया गया था भक्ति से भरी तन्मयेता का ऐसा अनूठी संरचना बड़े ही विरले लोगों को देखनी नसीब होती है!
करीब ५.३० बजे करुणामयी श्री राधे माँ जी ने स्वयं रथ पर सवार होकर ,बेसब्री से इंतज़ार कर रहे अपने भक्तों को अपने दुर्लभ और दिव्य दर्शनों से निहाल कर दिया और बड़ी ही सुन्दर और आकर्षक आतिशबाजी सहित इस भव्य शोभायात्रा का शुभारम्भ  हुआ ,ज्यूँ ही यात्रा शुरू हुई ऊपर आसमान से एक विमान से पुष्पों की वर्षा से स्वागत किया गया और   ये पुष्पों से भरा स्वागत यात्रा में निरंतर होता रहा, यात्रा में अपनी हाजरी लगाने और श्री राधे माँ जी के दिव्य दर्शन पाने के लिए सुप्रसिद्ध गायक मास्टर सलीम ,श्री सरदूल सिकंदर ,मिक्की सिंह, माशा अली  और संजीव कोहली ने पूरी यात्रा में भावपूर्ण भजनों से माँ का और इस शोभायात्रा का गुणगान  किया ,डेरा परंहंस बाग़ से निकल के यात्रा पूरे मुकेरियां शहर से गुजरी और हज़ारों कि तादाद में मुकेरियां वासियों ने देवी माँ जी के विशाल और सुन्दर स्वर्णिम रथ के आगे  नाच नाच कर माँ का स्वागत किया एवं आरती उतार कर अपने भाव प्रकट किये और रज रज ममतामयी श्री राधे माँ जी के दुर्लभ दर्शनों का लाभ लिया
लगभग ६ घंटे चली इस मनमोहक,मनुहारी और अनुपम शोभायात्रा में सारे विश्व भर से पधारे भक्तों ने बढ़ चढ़ के हिस्सा लिया और इस शोभायात्रा को फलदायी , इच्छापूरक और  सफल तो बनाया ही परन्तु भक्तों ने  स्वयं अक्षय पुण्य के भागी बनने का सौभाग्य प्राप्त किया
जय माता दी

Mamtamai Shri Radhe Maa – ‘Maa Bhagwati Jagran’ – Mukerian – 11th April, 2011

Mamtamai Shri Radhe Maa – ‘Maa Bhagwati Jagran’ – Mukerian – 11th April, 2011

 

ममतामई श्री राधे माँ के भक्तो के लिए कल रात ‘नवरात्री की अष्टमी महामाई की विशाल चौकी’ के संग बड़ी धूम धाम के साथ मनाई गयीl मुकेरियां स्थित डेरा परमहंस बाग़ के विशाल प्रांगन में माँ भक्त मास्टर सलीम, मिक्की सिंह और संजीव कोहली द्वारा माता का सुन्दर गुणगान हुआl

करीब १०.३० बजे करुणामयी ‘श्री राधे माँजी’ का आगमन हुआ और बैंड बाजे, आतिशबाजियों संग उनका भव्य स्वागत किया गया, अष्टमी की रात ‘देवी माँजी’ ने अपने दुर्लभ और दिव्य दर्शन देकर भक्तो की नवरात्री सफल कर दीl

 

Mamtamai Shri Radhe Maa – Chowki at Mukerian – 9th April, 2011

Mamtamai Shri Radhe Maa – Chowki at Mukerian – 9th April, 2011

ऐसा कहते हैं के जहाँ भी सच्ची भक्ति,श्रद्धा और प्रेम से प्रभु का  गुणगान होता है वहां ३३ कोटि देवी देवता भी अपनी हाजरी भरते हैं ,९ अप्रैल २०११ को मुकेरियां (पंजाब) के वासी डॉक्टर सुशील सहगल जी द्वारा आयोजित ममतामयी श्री राधे माँ जी के पावन सानिध्य में माँ भगवती की विशाल चौकी में ठीक ऐसा ही कुछ दृश्य देवी माँ के भक्तो देखने का सौभाग्य प्राप्त हुआ ,माता का बड़ा ही आकर्षक और सुन्दर दरबार सजाया गया था जिसमे हनुमान जी, गणेश जी और मध्य में माँ दुर्गा की मनमोहक और निराली प्रतिमा विराजमान थी, शास्त्रों और विधि विधान अनुसार ज्योत प्रज्वलित कर मिक्की सिंह द्वारा भेटों का बड़ा ही सुरीला और भावपूर्ण कार्यक्रम आरम्भ हुआ!
रात्री करीब ९ बजे करुणामयी श्री राधे माँ जी का आगमन हुआ और मानो माँ भगवती की चौकी मेंन चार चाँद लग गए, ज्योत के दर्शन कर श्री राधे माँ ने अपने दुर्लभ और दिव्या दर्शन देकर मुकेरियां वासियों को कृतार्थ किया, लम्बे समाये के इंतज़ार और दर्शन की प्यास को मानो देवी माँ जी ने तृप्त कर दिया l

Mamtamai Shri Radhe Maa – माँ भगवती की विशाल चौकी

गुरूवार रात जब ममतामयी श्री राधे माँ अपनी कर्मभूमि मुकेरियां (पंजाब ) पहुंची तो प्रतीक्षा कर रहे भक्तों के चेहरे पे रौनक छा गयी और कुछ की आँखों से भावना भरे आंसू छलक उठे , भक्तो को देख साफ़ प्रतीत  हो रहा था की उनकी अंतर्मन की अर्दासों को देवी माँ ने कुबूल किया और उन्हें अपने दुर्लभ और  दिव्य दर्शनों से कृतार्थ किया है , ९ अप्रैल २०११ शाम ७ बजे से करुणामयी श्री राधे माँ जी के सानिध्य में माँ भगवती की विशाल चौकी ,मुकेरियां बड़े बस स्टैंड के पास  डॉक्टर सुशिल सहगल जी के यहाँ होने वाली है , सभी भक्तगण सादर आमंत्रित हैं